Components of Computer in Hindi

Basic Components of Computer in Hindi: कंप्यूटर के प्रमुख भाग

Spread the love

कंप्यूटर के भाग (Basic Components of Computer in Hindi):

Components of Computer: आप जानते हैं कि कंप्यूटर कई प्रकार के होते हैं, यानी आकार, प्रकार, क्षमता और उपयोग के अनुसार कंप्यूटर को कई श्रेणियों में बांटा गया है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि कंप्यूटर चाहे छोटा हो या बड़ा, पुराना हो या नया, उसका बेसिक एनाटॉमी हमेशा एक जैसा रहता है। प्रत्येक कंप्यूटर के पाँच मुख्य भाग (Computer ke Bhag) इस प्रकार हैं:

1. इनपुट यूनिट

2. आउटपुट यूनिट

3. मेमोरी

4. अंकगणित और तर्क इकाई (या ALU)

5. नियंत्रण इकाई

इनपुट यूनिट द्वारा हम अपने डेटा, कमांड या प्रोग्राम को कंप्यूटर में फीड करते हैं, जो ALU द्वारा प्राप्त किया जाता है और मेमोरी में उचित स्थान पर संग्रहीत किया जाता है।

जरूरत पड़ने पर ALU मेमोरी से डेटा और निर्देश लेता है, जहां कंट्रोल यूनिट के सीपीयू कमांड के अनुसार उस पर विभिन्न ऑपरेशन किए जाते हैं और परिणाम या तो आउटपुट यूनिट को भेजे जाते हैं या फिर मेमोरी में ही स्टोर हो जाते हैं।

Components of Computer in Hindi

अन्य सभी इकाइयाँ नियंत्रण इकाई के पर्यवेक्षण में कार्य करती हैं। डेटा का प्रवाह लाल रेखाओं द्वारा दिखाया जाता है और नियंत्रण का प्रवाह नीली रेखाओं द्वारा दिखाया जाता है।

Components of Computer in Hindi: कंप्यूटर के पांच भागों में से अंतिम तीन भागों-मेमोरी, ALU और कंट्रोल यूनिट को सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट या सीपीयू कहा जाता है। असल में सीपीयू ही असली कंप्यूटर है। अन्य दो डार्ट्स (इनपुट और आउटपुट यूनिट) सीपीयू के साथ यूजर का इंटरफेस बनाने का केवल माध्यम हैं।

इनपुट यूनिट के साथ हम कंप्यूटर से अपनी बात रखते हैं और आउटपुट यूनिट के साथ कंप्यूटर की अपनी बात हमसे होती है। इस Article में आप सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट और इनपुट-आउटपुट यूनिट यानी कि Components of Computer (कंप्यूटर के भागों) के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे:

Components of Computer (कंप्यूटर के प्रमुख भाग):

सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट या CPU:

ऊपर आपने पढ़ा है कि सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट असली कंप्यूटर है। यह कंप्यूटर का दिमाग और दिल है। कंप्यूटर द्वारा किए जाने वाले सभी कार्य वास्तव में CPU द्वारा ही किए जाते हैं। इनपुट-आउटपुट इकाइयाँ ही कंप्यूटर के साथ हमारे संबंध को निर्धारित करती हैं।

सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट में तीन महत्वपूर्ण भाग होते हैं:

1. मेमोरी या स्टोरेज

2. अंकगणित और तर्क इकाई (ALU)

3. नियंत्रण इकाई (Control Unit)

इन तीन भागों के कार्यों का संक्षेप में वर्णन किया गया है (Components of Computer System):

मेमोरी (Components of Computer):

यह कंप्यूटर का वह भाग (Computer ke bhag) होता है जिसमें सभी डेटा और प्रोग्राम संग्रहीत होते हैं। यदि कंप्यूटर में ऐसा कोई भाग नहीं है तो कंप्यूटर को दिया गया कोई भी इनपुट डेटा तुरंत खो जाएगा इसलिए, इस भाग का महत्व स्पष्ट है।

मेमोरी मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है- मुख्य मेमोरी और सहायक मेमोरी। इनमें से मुख्य मेमोरी को सीपीयू का एक हिस्सा माना जाता है और सहायक मेमोरी कंप्यूटर के बाहर विभिन्न मीडिया जैसे हार्ड डिस्क, कॉम्पैक्ट डिस्क, टेप आदि से बनी होती है।

दोनों प्रकार की मेमोरी में लाखों बाइट्स होते हैं, जिसमें सभी प्रकार के डेटा और कमांड बाइनरी नंबरों के रूप में संग्रहीत होते हैं। मेमोरी कंप्यूटर का आकार जितना बड़ा होता है उसे तेज माना जाता है।

अंकगणित और तर्क इकाई (ALU):

 जैसा कि इसके नाम से पता चलता है, इस इकाई के अंदर सभी प्रकार की गणितीय गणना जैसे जोड़, घटाव, गुणा और भाग किया जाता है। यह दो संख्याओं की तुलना भी करता है, यानी यह बताता है कि दोनों में से कौन सी संख्या छोटी या बड़ी है या दोनों समान हैं।

Components of Computer: ये कार्य इस यूनिट में CPU के लिए किए जाते हैं। यह इकाई कुछ इलेक्ट्रॉनिक सर्किटों से बनी होती है, जो ये गणना या तुलना करते हैं। यदि हम एक सर्किट में इनपुट के रूप में दो नंबर भेजते हैं, तो हम दूसरी तरफ से उनका योग, अंतर, उत्पाद या भागफल प्राप्त कर सकते हैं। इस इकाई में, सभी संक्रियाएँ बाइनरी संख्या प्रणाली में की जाती हैं,

कंट्रोल यूनिट (Control Unit):

इस यूनिट का कार्य सबसे महत्वपूर्ण होता है। यह सभी अंगों के सभी कार्यों पर नजर रखता है और उनके बीच समन्वय बनाने के लिए उचित निर्देश जारी करता है। इस यूनिट का मुख्य और पहला काम यह है कि यह प्रोग्राम को पढ़ता है, जिसे हम मेमोरी से चलाना चाहते हैं और विश्लेषण करने के बाद इसे निष्पादित किया जाता है।

Components of Computer in Hindi: एक निर्देश के निष्पादन को सही ढंग से सुनिश्चित करने के लिए, यह कंप्यूटर के अन्य सभी घटकों को आदेश जारी करता है। उदाहरण के लिए, मेमोरी को किसी विशेष स्थान से किसी विशेष डेटा को स्टोर करने या सीपीयू को भेजने का निर्देश दिया जा सकता है।

कंप्यूटर के सभी भागों (Componets of Computer in Hindi) के बीच तालमेल बिठाकर किसी प्रोग्राम को सही ढंग से निष्पादित कराने की जिम्मेदारी मुख्य रूप से इसी इकाई की होती है।

इस प्रकार उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए सभी कार्य सीपीयू की सभी इकाइयों द्वारा आपसी सहयोग से किए जाते हैं। इसके लिए जब किसी इनपुट की आवश्यकता होती है, तो उसे एक इनपुट डिवाइस से एकत्र किया जाता है और उससे प्राप्त परिणाम या संदेश एक आउटपुट डिवाइस को भेजे जाते हैं।

Monitor:

इसे वीडीयू (विजुअल डिस्प्ले यूनिट) भी कहा जाता है। इसका आकार टेलीविजन जैसा है। कार्यक्रमों के आउटपुट (परिणाम और संदेश) इसकी स्क्रीन पर प्रदर्शित होते हैं। आम तौर पर, यह 25 लाइनें प्रदर्शित कर सकता है और प्रत्येक पंक्ति में 80 वर्ण प्रदर्शित किए जा सकते हैं।

इस प्रकार, यह एक बार में 2000 वर्ण प्रदर्शित कर सकता है। यह चित्र, ग्राफ और अन्य प्रकार की जानकारी भी प्रदर्शित कर सकता है। VDU पर प्रदर्शित सभी सूचनाएँ बहुत छोटे चमकीले बिंदुओं से बनी होती हैं, जिन्हें पिक्सेल कहा जाता है।

Basic Component of Computer: मॉनिटर दो प्रकार के होते हैं- मोनोक्रोम और कलर। मोनोक्रोम मॉनिटर पर, सभी जानकारी केवल एक रंग में दिखाई जाती है, जबकि रंग मॉनिटर पर जानकारी कई रंगों में दिखाई जा सकती है।

इन दिनों हर जगह ज्यादातर मल्टी-कलर मॉनिटर का इस्तेमाल किया जाता है। मॉनिटर आउटपुट का एक बहुत ही सस्ता और आरामदायक उपकरण है, जो आमतौर पर हर कंप्यूटर में पाया जाता है।

ये है कंप्यूटर के कुछ प्रमुख भाग (Basic Component of Computer in Hindi).

Leave a Comment

Your email address will not be published.